ब्रेकिंग:- घनसाली में गुलदार की दहशत, कुत्ते को निवाला बनाकर कुत्ते की चैन में ही फस गया गुलदार, किया गया रेस्क्यू।

उत्तराखंड टिहरी गढ़वाल ब्रेकिंग न्यूज

i

घनसाली:- विगत एक माह से घनसाली नगर में गुलदार का दिन में स्कूल व घरों में चहल कदमी करने से जंहा एक ओर स्थानीय निवासी दहशत में थे वंही दूसरी तरफ वन विभाग गुलदार के हाथ ना आने से सकते में थे। वन विभाग के कर्मियों ने गुलदार से बचने के लिए जंहा एक ओर हवाई फायर की वंही दूसरी तरफ नगर क्षेत्र में माईक से गुलदार होने की सूचना देकर घरों में रहने व सावधानी बरतने की अपील भी की।
जानकारी के मुताबिक कल रात को गुलदार ने इंडेन गैस एजेंसी घनसाली के नजदीक जुगत्वण टाईल वालों के मकान के दूसरे मंजिल में बंधे कुत्ते के शिकार को लेकर उस पर हमला किया। हमले में कुत्ते को गुलदार ने मार दिया लेकिन कुत्ते की चैन में गुलदार के फँसने के कारण गुलदार भाग नही सका। स्थानीय लोगों द्वारा वन विभाग के अधिकारियों को सूचना की गयी। तत्काल वन विभाग के कर्मियों द्वारा उक्त क्षेत्र को कवर कर परिवार को अंदर ही रहने की सलाह दी। जैसे ही गुलदार की सूचना मिली आस-पास के लोग डरे सहमे जमा होने लगे। स्थानीय तहसील प्रशासन, पुलिस व वन विभाग की टीम लोगों को दूर-दूर रहने की सलाह देते रहे। दस घंटे बाद नई टिहरी से वन विभाग की आरआरटी टीम के सदस्य रमेश थपलियाल, लक्ष्मण सिंह सजवान, विनोद सिंह ने पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ सुरेश चंद्र की निगरानी में कड़ी मशक्कत के बाद बाघ को ट्रेंकुलाइज कर पिंजड़े में कैद किया गया।
वहीं घनसाली नगर वासियों को बाघ के दहशत से राहत मिली है।
इस अवसर पर प्रभारी रेंजर रमेश डंगवाल, वन दारोगा रविंद्र प्रसाद नैथानी ,वन रक्षक संजय डोभाल, विक्रम कैन्तुरा, राकेश सकलानी, कु मनीषा, भवानंद सेमवाल, तहसीलदार मेहशा शाह , राजस्व निरीक्षक रमेश सिंह गुसाईं, राजस्व उप निरीक्षक विनोद नाथ व घनसाली पुलिस के कर्मचारी उपस्थित थे।