दुःखद घटना:- केदारनाथ में हादसा, हेलीकॉप्टर के पंखे की चपेट में आने से एक व्यक्ति की मौत।

उत्तराखंड केदारनाथ रुद्रप्रयाग

रुद्रप्रयाग:- केदारनाथ से एक बड़ी खबर सामने आई है। केदारनाथ में हेलीकॉप्टर के रोटर की चपेट में आने से यूकाडा अधिकारी की मौत हो गई है। बताया जा रहा है कि केदारनाथ में हेलीकॉप्टर के पीछे लगे रोटर की चपेट में आने से यूकाडा के वित्त नियंत्रक अमित सैनी की मौत हो गई है।

आपदा प्रबंधन अधिकारी नंदन सिंह रजवार ने इस दुर्घटना की जानकारी मीडिया को देते हुए बताया कि 2.15 बजे जीएमवीएन हेलीपैड केदारनाथ में हेलीकॉप्टर के टेल रोटर से अमित सैनी महाप्रबंधक वित्त (यूकाडा) का सिर कटने से मौत हो गयी।
गौरतलब है कि केदारनाथ में यात्रा व्यवस्थाओं का जायजा लेने के लिए यूकाडा की टीम गई हुई थी।

जानकारी के मुताबिक यूकाडा के वित्त नियंत्रक अमित सैनी केदारनाथ हेलीपैड निरीक्षण के लिए क्रिस्टल एविएशन के हेलीकॉप्टर से गए थे। केदारनाथ में लैंडिंग के बाद जब अमित हेलीकॉप्टर से उतर रहे थे, इसी दौरान हेलीकॉप्टर के पीछे लगे रोटर की चपेट में आने की वजह से उनकी मौके पर ही मौत हो गई।

i

उन्होंने बताया कि यह हादसा किसकी लापरवाही से हुई है, इसकी जानकारी ली जा रही है। क्रिस्टल एविएशन के हेलीकॉप्टर से हुए इस हादसे की जांच की जाएगी। जिसके बाद ही कोई तथ्य सामने आ पाएगा।
वहीं, सूत्रों की माने तो यह हादसा लैंडिंग के बाद पीछे का रोटर बंद नहीं किए जाने की वजह से हुई है, जो एक बड़ी लापरवाही है। गौरतलब है कि पिछले साल भी केदारनाथ में हेलीकॉप्टर क्रैश हो गया था, इस घटना में सात लोगों की मौत हुई थी।

आपको बता दें कि इस बार 25 अप्रैल से केदारनाथ यात्रा की शुरुआत होने जा रही है। हालांकि, चारधाम यात्रा का शुभारंभ 22 अप्रैल को गंगोत्री और यमुनोत्री के कपाट खुलने के साथ ही हो चुका है। वहीं, बदरी विशाल के कपाट 27 अप्रैल को खुलेंगे। केदारनाथ यात्रा को लेकर तैयारियां जोरों पर है। केदारघाटी में हुई बर्फबारी की वजह से शासन-प्रशासन को केदारनाथ पैदल मार्ग और धाम में व्यवस्था बनाने में कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं, केदारनाथ यात्रा से पहले यह हादसा होना बड़ा ही दुखद है।