ब्रेकिंग:- जल संस्थान की लापरवाही से सप्ताह भर से तरस रहे 100 से अधिक परिवार पीने के पानी को।

उत्तराखंड ब्रेकिंग न्यूज

सिमली:- लीकेज पाइपलाइन नालियों में बहता पानी जल संस्थान की लापरवाही को उजागर कर रहा है। सिमली में जहां एक हफ्ते से सिमली बाजार, न्यू मार्केट, पीपलसेरा, पेट्रोल पंप बस्ती के 100 से अधिक परिवार पीने के पानी को तरस रहे हैं। वहीं जल संस्थान विभाग मात्र पाइप लाइन की अदला बदली कर अपने कार्यों की इति श्री कर रहा है जो की जनता के साथ सरासर धोखा है।

क्षेत्रीय जनता उमेश खंडूरी, रविंद्र खंडूरी, जयदीप गैरोला, दीपक कुमार आदि ने बताया कि सिमली में पेयजल व्यवस्था सुचारु करने के लिए जल संस्थान ने 5 वर्ष पूर्व पेयजल लिफ्टिंग योजना पर लाखों रुपया खर्च कर योजना बनाई थी, लेकिन योजना पर पानी का एक रिजर्व टैंक ना होने से आज भी क्षेत्र की जनता पानी से वंचित है। बार-बार शिकायत करने पर भी जल संस्थान जनता के पानी की आपूर्ति करने में पूरी तरह से असफल है।

i

जबकि जल संस्थान ने सिमली क्षेत्र के लिए पेयजल योजनाओं का जाल बिछा रखा है जिसमें सिरोबगड़ पेयजल योजना राडखी पेयजल योजना टटासू महादेव योजना पेयजल योजना और ट्यूबवेल योजना। इन चारों योजनाओं के होने के बावजूद भी यदि पेयजल आपूर्ति सुचारू नहीं हो पा रही है तो तो शासन को इन विभागों पर कठोर कदम उठाने चाहिए, जिससे जनता को सरकार के प्रति विश्वास बना रहे। चार-चार योजनाओं पर लाखों करोड़ों खर्चने के बावजूद पानी न होना मात्र जल संस्थान की लापरवाही को उजागर कर रहा है। यही नहीं वर्षों पूर्व टटासु विद्यापीठ, न्यू डिम्मर को जाने वाली पाइपलाइन को उखाड़ कर जुगाड़ के तहत सिमली बाजार में बिछाया गया लेकिन इसका भी कोई प्रतिफल नहीं निकल पाया।